BIOMETRIC MACHINE RULES IN HARYANA

 सरकार ने बॉयोमेट्रिक मशीन हाजिरी के लिए नियम तय किए, अफसर और अध्यापक नहीं मार पाएंगे फरलो
सरकारीदफ्तरों में स्टाफ होने के बावजूद कर्मचारियों के मिलने से होने वाली परेशानियों से जल्द निजात मिल जाएगी। सरकारी दफ्तरों में एक बार आकर गायब होने वाले कर्मचारी, अफसर अब ऐसा नहीं कर पाएंगे। प्रदेश सरकार ने दफ्तरों में बॉयोमेट्रिक हाजिरी को पूरी तरह से सख्त और गंभीर हो गया है। सरकार के इस फैसले से सरकारी दफ्तरों के साथ-साथ
स्कूलों में अध्यापकों की फरलो में कमी आने की संभावना है, जिसका सीधा लाभ विद्यार्थियों आमजन को मिलेगा। उन्हें काम के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। बॉयोमेट्रिक हाजिरी को लेकर जहां सरकार पूरी तरह से गंभीर है वहीं कर्मचारियों पर नकेल कसने के लिए कई सख्त नियम भी लागू किए हैं।
नए आदेशों के मुताबिक अब सभी सीनियर सेकंडरी, हाई प्राइमरी स्कूलों में स्टाफ की बॉयोमेट्रिक मशीन से हाजिरी लगा करेगी। इसके लिए इंटरनेट कनेक्शन लेने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।
{यदि कर्मचारी एक महीने में तीन दिन से ज्यादा दिनों तक कार्यालय लेट आता है तो उसकी रोज की हाफ-डे हाजिरी लगेगी। या आधे दिन का वेतन कटेगा।
{यदि कोई कर्मचारी या अधिकारी टूर पर है तो उसे ऑन लाइन पोर्टल पर जाकर हाजिरी लगानी होगी।
{कोई कर्मचारी या अधिकारी कहीं दूसरे विभाग या कार्यालय में मीटिंग में गया है तो वहीं पर आधार नंबर के जरिए वहां की मशीन पर हाजिरी लगानी होगी। उसे भी माना जाएगा। वहीं टूर या लीव को रिपोर्टिंग ऑफिसर से अप्रूव करना होगा।
{यदि कोई कर्मचारी किसी तकनीकी कारण से हाजिरी नहीं लगा पाता या मशीन असेप्ट नहीं करती तो उसे अपने तुरंत प्रशासन को सूचना देनी होगी।
{कार्यालय सुबह 9 से शाम 5 बजे खुलते हैं। ऐसे में सुबह सवा 9 बजे तक हाजिरी आधार के साथ लगानी होगी। शाम को ऑफिस छोड़ते समय लगानी होगी।
{जिस कर्मचारी की हाजिरी 9 बजकर 45 मिनट के बाद लगी होगी, उसकी हाफ दिन की हाजिरी लगेगी।
{जो कर्मचारी सुबह 9 बजकर 16 मिनट से लेकर 9 बजकर 45 मिनट के बीच में पहुंचता है। यदि वह शाम साढ़े 5 बजे तक ऑफिस में काम करता है तो उसकी हाजिरी पर विचार-विमर्श किया जा सकता है।
{यदि कोई कर्मचारी महीने में तीन दिन सुबह 9 बजकर 16 मिनट से लेकर 9 बजकर 45 मिनट के बीच में पहुंचता है। उसकी एक दिन की केजुअल लीव काट ली जाएगी। केजुअल लीव खत्म हो चुकी है तो एक दिन का वेतन काटा जाएगा।
इंटरनेट और आधार से कनेक्ट होंगी मशीनें
सरकारकी ओर से तय किए गए नए नियमों के हिसाब से अब बॉयोमेट्रिक मशीन को इंटरनेट आधार से लिंक किया जाएगा। इसके लिए सबसे पहले स्कूलों में बॉयोमेट्रिकक मशीन उपलब्ध कराने के साथ-साथ इंटरनेट, वाईफाई से कनेक्ट करने के आदेश दिए गए हैं। ताकि सुबह-शाम लगने वाली हाजिरी साथ-साथ प्रशासनिक अधिकारियों सरकार तक अपडेट पहुंच सके।
फतेहाबाद। बॉयोमेट्रिक मशीन
सीएम खुद रखेंगे निगरानी
बतादें कि सभी विभागों को सरकार की ओर से आदेश मिले हैं कि बॉयोमेट्रिक हाजिरी लगाना सुनिश्चित किया जाए। हमारे यहां कुछ सीएचसी पर व्यवस्था नहीं थी, शुक्रवार को वहां व्यवस्था बनाकर बॉयोमेट्रिक हाजिरी लगाना सुनिश्चित किया गया है। आदेशों के अनुसार बॉयोमेट्रिक हाजिरी का खुद सीएम द्वारा जल्द ही रिव्यू किया जाना है।

www.facebook.com/teacherharyana www.teacherharyana.blogspot.in (Recruitment , vacancy , job , news)

Featured Post

Education Department Haryana Every topic & other important information